छत्तीसगढ़धार्मिक आयोजन

19 अप्रैल को सिद्धाश्रम साधक परिवार की निकलेगी शिवरीनारायण में भव्य शोभा यात्रा..

*19 अप्रैल को सिद्धाश्रम साधक परिवार की निकलेगी शिवरीनारायण में भव्य शोभा यात्रा..

शिवरीनारायण l अंतर्राष्ट्रीय सिद्धाश्रम साधक परिवार छत्तीसगढ़ द्वारा शिवरीनारायण के ऐतिहासिक मेला ग्राउंड परिसर में सद्गुरुदेव अवतरण दिवस पर जोधपुर से पहुंचे सद्गुरुदेव नंदकिशोर श्रीमाली के उपस्थिति में 19,20 व 21 अप्रैल को छत्तीसगढ़, उड़िसा, मध्यप्रदेश, झारखंड, बिहार तथा देश के विभिन्न प्रदेशों से शिवरीनारायण आकर पुराने व नये जुड़ने वाले साधक साधिकाओं का समागम होगा जहां भव्य पंडाल का निर्माण कर दस हजार से अधिक भक्तजनों के बैठने की व्यवस्था की जा चुकी है जिनके ठहरने व भोजन की व्यवस्था भी अतिरिक्त रुप से कर ली गई है,तीन दिवसीय शिविर के पहले दिन 19 अप्रैल की संध्या स्थानीय राम मंदिर से सद्गुरु देव नंदकिशोर श्रीमाली की उपस्थिति में भव्य शोभायात्रा का शुभारंभ होगा और 20 व 21 अप्रैल को गुरूदेव श्रीमाली द्वारा गुरू दीक्षा,प्रवचन के अतिरिक्त विभिन्न स्तर की दीक्षाऐं साधना स्थल पर नये व पुराने साधक साधिकाओं को प्रत्यक्ष रूप से देंगे

*शोभायात्रा जहां से निकलेगी….
———————————
जोधपुर से पहुंचे सद्गुरुदेव नंदकिशोर श्रीमाली को आयोजकों द्वारा बनाये गए एक भव्य रथ में विराजमान कराने के पूर्व शिवरीनारायण स्थित राम मंदिर में सर्वप्रथम श्रीमाली के द्वारा 19 अप्रैल की संध्या 6 बजे पुजा पाठ कर रथ पर सवारी करेंगे उक्त अवसर पर शोभायात्रा की अगवानी करने सैकड़ों साधिकाओं द्वारा कलश उठाकर चलेंगी उक्त अवसर पर करमानृत्य,बैण्ड बाजा के साथ गुरूदेव के जयकारा के साथ शोभायात्रा राम मंदिर से रपटा रोड़ होते हुए अंबेडकर चौक होते हुए मुख्य मार्ग से मेला ग्राउंड पहुंचेगी जहां गुरूदेव नंदकिशोर श्रीमाली की साक्षात गुरू आरती वंदन कर पूजा अर्चना की जायेगी उक्त अवसर पर आयोजकों द्वारा शोभायात्रा में अधिक से अधिक साधक साधिकाओं को गुरू चादर के साथ शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है…

*गुरूदेव देंगे शक्तिपात के साथ दीक्षायें,होंगी साधनायें,भजन व प्रवचन भी…
———————————
निखिल अवतरण अमृत महोत्सव के शिविर में सद्गुरुदेव निखिलेश्वरानंद जी के दिव्य छत्र छाया में राजस्थान से पधारे गुरूदेव नंदकिशोर श्रीमाली द्वारा 20 व 21 अप्रैल को सैकड़ों साधक साधिकाओं को शक्तिपात के माध्यम से गुरू हृदयस्थ धारण दीक्षा करायेंगे,गुरू दीक्षा, अन्य साधनाओं के साथ ही प्रवचन और संगीतमय भजन भी होगा सुबह और संध्या गुरू आरती समूह में होगी,प्रशाद का वितरण भी किया जायेगा !

#

#

#

#

#

#

#

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button