छत्तीसगढ़धार्मिक आयोजनशक्ति

सर्व ब्राह्मण समाज ने भगवान परशुराम जयंती पर शहर में निकाली भव्य शोभायात्रा..

सर्व ब्राह्मण समाज ने भगवान परशुराम जयंती पर शहर में निकाली भव्य शोभायात्रा..

शोभायात्रा में रामकुमार गबेल परिवार की महिलाओं ने बरसाए फूल, जगह-जगह हुआ स्वागत….

सक्ती । भगवान परशुराम जन्मोत्सव के अवसर पर सक्ती जिला मुख्यालय में ब्राम्हण समाज ने भव्य शोभायात्रा के साथ जन्मोत्सव धूमधाम एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया । इस अवसर पर शोभायात्रा सहित विभिन्न धार्मिक आयोजन किये गये। भगवान परशुराम का जन्म वैशाख मास की शुक्ल तृतीया को हुआ था। इस दिन अक्षय तृतीया भी मनाई जाती है। अक्षय तृतीया के दिन जन्म लेने के कारण भगवान परशुराम की शक्ति की क्षति नहीं होती थी। इस अवसर पर सक्ती शहर में भव्य शोभायात्रा जुलूस निकाली गयी जो परशुराम मंदिर हटरी चौक से आरंभ होकर नगर के मुख्य मार्गों तक निकाली गयी। जिसमें सर्व ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष पं. दिगंबर प्रसाद चोबे ने प्रातः 10 बजे परशुराम मंदिर मे भगवान की विशेष पूजा अर्चना कर मंत्रोच्चारण किया जिससे पूरा परिसर भक्तिमय हो गया। कार्यक्रम के संबंध में पंडित दिगंबर प्रसाद चोबे एवं घनश्याम पांडेय ने बताया कि परशुराम भगवान विष्णु के छठे अवतार थे। महर्षि वेदव्यास, राजा बलि, हनुमान, विभीषण, कृपाचार्य, ऋषि मार्कडेय सहित उन आठ अमर किरदारों में उनकी गिनती होती है, जिन्हें कलियुग तक अमर माना जाता है। भगवान परशुराम के बचपन का नाम राम भी माना जाता है। इनके बचपन में उन्हें राम कहकर बुलाते थे। आज इस अवसर पर पंडित दिगंबर प्रसाद चौबे ने परशुराम भवन के लिए जमीन भी दान की है जिसका आज भूमि पूजन किया गया । इस अवसर पर पंडित राधेश्याम शर्मा मदन मोहन शर्मा राजेश बाबा सजन शर्मा राजेश शर्मा पंडित देवेंद्र नाथ अग्निहोत्री राकेश द्विवेदी शैलेंद्र तिवारी पवन शर्मा दीनदयाल शर्मा सुमित अमित शर्मा विकास चौबे सहित सर्व ब्राह्मण समाज के लोग अधिक संख्या में उपस्थित रहे।

*भगवान परशुराम की शोभायात्रा का भव्य स्वागत किया रामकुमार गबेल परिवार ने…

शोभायात्रा मे ग्राम डोंगिया निवासी रामकुमार गबेल ने अपनी पत्नि श्रीमती गीता गबेल व अपने परिवार के साथ शोभा यात्रा का भव्य स्वागत किया। उन्होंने पुष्पवर्षा किया तथा गुलाब भेंट किया। श्री गबेल ने शोभायात्रा के स्वागत के लिए विशेष तैयारी की थी। राज गबेल राघवेंद्र सुनैना गबेल हरबंस गबेल पुरुषोत्तम गबेल फलेश गबेल विवेक गबेल नितेश गबेल राजू गबेल नितिन गबेल शोभायात्रा का स्वागत करते हुए श्री गबेल ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को समाज के लिए काम करना चाहिए, भगवान परशुराम के पद चिह्नों में चलना चाहिए।
——————–

#

#

#

#

#

#

#

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button