छत्तीसगढ़ब्रेकिंग न्यूज़शक्ति

माननीय गौतम भादुड़ी न्यायाधिपति ने जिला अधिवक्ता संघ शक्ति के पदाधिकारियो को दिलाई पद एवं गोपनीयता की शपथ.✅️ अधिवक्ताओं को दिए सफलता के मंत्र और कहा ड्रेस कोड और बैंड आपके लिए मायने रखता है इससे आपकी पर्सनालिटी चेंज हो जाती है.✅️ माननीय न्यायाधिपति ने शक्ति न्यायालय भवन का किया निरीक्षण…

माननीय गौतम भादुड़ी न्यायाधिपति ने जिला अधिवक्ता संघ शक्ति के पदाधिकारियो को दिलाई शपथ.✅️

अधिवक्ताओं को दिए सफलता के मंत्र और कहा ड्रेस कोड और बैंड आपके लिए मायने रखता है इससे आपकी पर्सनालिटी चेंज हो जाती है.✅️

माननीय न्यायाधिपति ने शक्ति न्यायालय भवन का किया निरीक्षण…

सकती । जिलाअधिवक्ता संघ शक्ति के नवगठित पदाधिकारियो को 10 अप्रैल बुधवार की शाम न्यायालय परिसर में  मुख्य अतिथि माननीय गौतम भादुड़ी न्यायाधिपति बिलासपुर ने पद एवं गोपनीता की शपथ दिलाई है । इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि माननीय एन. के. चंद्रवंशी न्यायाधिपति उच्च न्यायालय बिलासपुर तथा कार्यक्रम के अध्यक्षता बार काउंसिल आफ इंडिया के सदस्य शैलेंद्र दुबे तथा जांजगीर जिला के जिला सत्र न्यायाधीश श्रीमान राजपूत जी मंच पर विशेष रूप से उपस्थित रहे । सर्वप्रथम अतिथियों के आगमन पर अंचल के प्रसिद्ध करमा नृत्य से स – सम्मान स्वागत किया गया , अतिथियों ने मां सरस्वती जी के तेल चित्र पर धूप दीप पुष्प अगरबत्ती फूल माला अर्पित कर पूजा अर्चना की। उसके बाद  जिला अधिवक्ता संघ के सदस्यों ने अतिथियों का स्वागत फूल माला एवं बैच लगाकर किया तथा अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया ,तत्पश्चात अतिथियों का उदबोधन हुआ , उसके बाद मुख्य अतिथि न्यायाधिपति ने पदाधिकारियो को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई एवं माननीय न्यायाधिपति ने जिला अधिवक्ता संघ शक्ति के सभी सदस्यों के साथ फोटो सेशन भी करवाया , माननीय न्यायाधिपति ने सकती न्यायालय भवन का निरीक्षण भी किया ।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित माननीय गौतम भादुड़ी न्यायाधिपति ने अपने उदबोधन मे अधिवक्ताओं का सफलता के मूल मंत्र दिए और कहा कि ड्रेस कोड और बैंड आपके लिए बहुत मायने रखता है इससे आपकी पर्सनालिटी चेंज हो जाती है, समय-समय पर अधिवक्ताओं के लिए सेमिनार और सेमपोजियम आयोजित करने की बात भी कही है उन्होंने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट द्वारा प्रोसीडिंग को लाइव टेलीकास्ट के माध्यम से दिखाया जाता है जिसे देखकर आप बहुत कुछ सीख सकते हैं आप इससे एसपायर हो सकते हैं शक्ति बार को भी इस प्रकार की व्यवस्था समय-समय पर करनी चाहिए जिससे जूनियर अधिवक्ताओं को बहुत कुछ सीखने को मिलता है स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि एक सामान्य व्यक्ति और एक सफल व्यक्ति में एक ही बात भिन्न रहती है कि वह अपने आप को किस प्रकार ध्यान फोकस अभ्यास करता है। उन्होंने कहा एक सफल वकील होने के लिए आपके भीतर आत्मविश्वास होना जरूरी है यह आत्मविश्वास आपके भीतर विधि के ज्ञान से आता है इसलिए सभी अधिवक्ताओं को विधि के क्षेत्र में निरंतर अध्ययन व अद्यतन होना जरूरी है । नकारात्मकता से परे सकारात्मकता को आत्मसात कर अपने जीवन को सहज सरल तथा सफल बना सकते हैं । कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि माननीय एन. के. चंद्रवंशी न्यायाधिपति उच्च न्यायालय बिलासपुर ने अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि सभी अधिवक्ताओं को ला कानून संबंधित बुक अवश्य पढ़ाना चाहिए जिससे प्रतिपरीक्षण कैसे करें, क्रॉस कैसे करें की जानकारी मिलती है कभी-कभी अधिवक्ताओं को जो बात न्यायालय में नहीं लानी चाहिए वह बात भी वह ले आते हैं जिससे प्रकरण कमजोर हो जाता है, उन्होंने आगे एक अच्छा उदाहरण देते हुए समझाया कि जैसे एक अच्छा डॉक्टर अपने मरीज का डायग्नोसिस करता है वैसे ही अधिवक्ताओं को अपने क्लाइंट का डायग्नोसिस करना चाहिए सत्य फैक्ट क्या है जानना चाहिए और उसका अध्ययन करना चाहिए हमारा केस कहां है हमारा डिफेंस कहां है जानकारी होनी चाहिए जैसे एक अच्छा शतरंज का खिलाड़ी एक दो चाल में ही समझ जाता है कि कहा शह और मात देना है समझ जाता है कि सामने वाला अब कौन सी चाल चलने वाला है वैसे ही अधिवक्ताओं को सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट एकत्र करना चाहिए और उसका फैक्ट जानना चाहिए तथा अपॉजिट पार्टी का क्या डिफेंस रहेगा उसको हम कैसे लेंगे और मामले को कहां तक ले जाएंगे इसका अध्ययन अवश्य करना चाहिए उन्होंने कहा वकालत के व्यवसाय में भी जूनियर्स सीनियर्स परस्पर गुरु शिष्य परंपरा को कायम रखें तो निश्चय ही आदर्श व्यवसाय के रूप में फलीभूत होगा । उन्होंने अपने अपर जिला न्यायाधीश सक्ती के कार्यकाल का स्मरण करते हुए कहा कि आज उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति के रूप में आपके बीच हूं तो इस मंजिल तक पहुंचने में आप सबका कहीं न कहीं योगदान है जिसके लिए आप सबके प्रति साधुवाद व्यक्त करता हूं। कार्यक्रम में अध्यक्षता कर रहे बार काउंसिल आफ इंडिया के सदस्य शैलेंद्र दुबे ने भी संबोधित किया एवं अपने अनुभव साझा करते हुए अधिवक्ताओं को न्यायालय में ड्रेस कोड एवं बैंड के महत्व को बताते हुए प्रकाश डाला एवं शपथ का मतलब बताते हुए अपना अनुभव साझा किया । शपथ ग्रहण समारोह में पदाधिकारीगण में अध्यक्ष नरेश सेवक ,वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय अग्रवाल ,प्रेमलता दुबे कोषाध्यक्ष प्यारेलाल पटेल ,सहसचिव परमानंद गबेल,सांस्कृतिक सचिव चंद्र कुमार भारद्वाज,सचिव सुरीत चंद्रा, ग्रंथपाल मुरलीधर देवांगन ,सदस्यों में अब्दुल रऊफ खान, ईश्वर प्रसाद गबेल, साखी गोपाल दुबे ,कृष्ण कुमार साहू ,परमेश्वर जायसवाल, कुमारी अंजना कंवर ने शपथ ली है । कार्यक्रम का संचालन चितरंजय पटेल तथा आभार व्यक्त सुरित चंद्रा ने किया । जिलाअधिवक्ता संघ शक्ति के शपथ ग्रहण समारोह में जांजगीर जिला के जिला सत्र न्यायाधीश श्रीमान राजपूत जी, तथा सक्ति में पदस्थ श्रीमान प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ. ममता भोजवानी, द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश बी आर साहू, विशेष न्यायाधीश फास्ट ट्रेक कोर्ट प्रशांत शिवहरे, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी श्रीमती गंगा पटेल, एवम व्यवहार न्यायाधीश वर्ग 2 कुमारी दिव्या गोयल, डभरा जैजैपुर मालखरौदा मे पदस्थ माननीय न्यायाधीश सहित वरिष्ठ अधिवक्ता श्याम सुंदर अग्रवाल, मदन मोहन शर्मा ,दिगंबर चौबे, संदीप बनाफर, एल.डी .चंद्रा, रहमान जी , प्रमोद पांडेय, दादू चंद्रा, नरेंद्र पटेल ,छवि पटेल, कमल साहू, अनिल साहू ,देवेंद्र निर्मलकर, पियूष राय ,पवन शर्मा, ऋषिकेश चौबे ,भीम देवांगन ,भेषज दुबे, दुर्गा साहू,वाल्मीकि सिंह बनाफर, अर्जुन राठौर, धर्मेंद्र सोन ,उदय वर्मा, राजू राठौर,रोहित राठौर, खिलावन राठौर ,राकेश राठौर,गिरधर जायसवाल मनोज जायसवाल, राकेश महंत, मनोज अग्रवाल महेश अग्रवाल, सुभाष ,गनी मोहम्मद ,मुन्ना पटेल ,दिनेश जायसवाल, अन्य सम्मानित अधिवक्ता सहित सकती न्यायालय मे कार्यरत कर्मचारी ,थाना प्रभारी विवेक शर्मा , यातायात प्रभारी कमल किशोर महतो, सहित नगर के गणमान्य नागरिक तथा मीडिया के साथी उपस्थित रहे।

#

#

#

#

#

#

#

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button